पंजाब में बिगड़ी कानून व्यवस्था – शिवसेना नेता सुधीर सूरी की अमृतसर में सरेआम गोली मारकर हत्या, मंदिर के बाहर मूर्तियों के अपमान के विरोध में दे रहे थे धरना

इन दिनों पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान अपनी पार्टी के सुप्रीमो अरविन्द केजरीवाल को गुजरात का चुनाव जितवाने को लेकर कभी पंजाब में होते हैं तो कभी गुजरात में! कभी भाजपा को कोसते हैं तो कभी दिल्ली के एलजी को, जिससे राजनीतिक माइलेज मिलता रहे, परन्तु उनके प्रांत में क्या हो रहा है, वह उन्हें दिखाई नहीं देता! क़ानून व्यवस्था कैसी है, इस पर उन्हें कुछ नहीं कहना होता, परन्तु इसकी हानि आम नागरिकों को कैसे हो रही है, वह पंजाब में आज हुई एक घटना को देखकर मिल गया है!

आज एक गंभीर घटनाक्रम में अमृतसर में शिवसेना के जानेमाने नेता सुधीर सूरी की सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी गई है। सुधीर सूरी एक मंदिर के बाहर धरना दे रहे थे, तभी अचानक उन्हें गोली मार दी गई। बताया जा रहा है कि अमृतसर के प्रसिद्द गोपाल मंदिर के बाहर कूड़े में भगवानों की मूर्तियां अपमानजनक अवस्था में मिली थी, जिसके विरोध में सूरी यहां धरने पर बैठे थे।

स्थानीय लोगो के अनुसार सुधीर सूरी तकसाली में शिवसेना के प्रमुख थे, और हिन्दू हित के कार्य करने के लिए प्रसिद्द थे। धरने के समय कुछ अज्ञात लोगों ने उन पर गोलियां चला दी, जिसके पश्चात उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। अमृतसर पुलिस के अनुसार आरोपी संदीप को गिरफ्तार कर लिया गया है और उससे हत्या में उपयुक्त किया गया हथियार भी बरामद कर लिया गया है।

Punjab | Sudhir Suri was shot outside Gopal Mandir, Amritsar during some agitation. He sustained bullet injuries & was rushed to hospital and died. Accused arrest, his weapons recovered: Amritsar CP on Shiv Sena leader Sudhir Suri being shot at in Amritsar https://t.co/7ceG1C9QKo pic.twitter.com/qLB4nG0ld9

— ANI (@ANI) November 4, 2022

सुधीर सूरी की हत्या का था अंदेशा

Also Read:  विवाह पंचमी: जिस देश में प्रेम और विवाह ही जीवन का आधार थे, वहां लिव-इन विमर्श का फलना: क्या स्वयं के हिन्दू अस्तित्व के प्रति आत्महीनता बोध इसका कारण है?

पुलिस के अनुसार शिवसेना नेता सुधीर सूरी पर हमले की योजना का अंदेशा पिछले कुछ समय से था। पुलिस ने पिछले महीने पहले ही कुछ गैंगस्टर को गिरफ्तार किया गया था, जिन्होंने पूछताछ में यह बताया था कि सूरी को मारने की योजना बनाई जा रही थी। पिछले महीने ही एसटीएफ और अमृतसर के संयुक्त ऑपरेशन में 4 गैंगस्टर को गिरफ्तार किया गया था।

यह लोग कुख्यात रिंदा और लिंडा समूह के थे। इन्होने बताया था कि सूरी की हत्या के लिए वह रेकी भी कर चुके थे। हालांकि, वह इसमें कामयाब नहीं हो सके और वारदात से पहले ही पुलिस और एसटीएफ ने उन्हें पकड़ लिया।

Also Read:  कतर, फीफा वर्ल्ड कप और जाकिर नाइक को लेकर कभी हाँ, कभी न!

शिवसेना नेताओं पर पहले भी हो चुके हैं जानलेवा हमले

सूरी पेशे से एक ट्रांसपोर्टर थे और वह राष्ट्रविरोधी तत्वों के खिलाफ मुखर रहते थे, यही कारण था कि उन्हें जान से मार देने की धमकियां मिलती रहती थी। इससे पहले गुरुवार को भी एक शिवसेना नेता के घर के पास फायरिंग की घटना सामने आई थी। यहां टिब्बा रोड स्थित ग्रेवाल कॉलोनी में पंजाब शिवसेना नेता अश्विनी चोपड़ा के घर के पास दो साइकिल सवार लोगों ने फायरिंग की थी। इस घटना का वीडियो एक घर के बाहर लगे क्लोज सर्किट टेलीविजन कैमरे में दर्ज हो गया। सौभाग्य से अश्विनी चोपड़ा को किसी प्रकार की हानि नहीं हुई।

सूरी की हत्या के बाद अमृतसर में तनाव का माहौल

इस घटना के पश्चात अमृतसर के गोपाल मंदिर और आस पास के क्षेत्र में तनाव की स्थिति बन गई है। सुधीर सूरी के समर्थकों ने पुलिस और राज्य सरकार के विरुद्ध आक्रामक नारेबाजी की, वहीं यह लोग पकडे गए हमलावर की दुकान के बाहर डटे हुए हैं। इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी नेता तेजिंदर सिंह बग्गा ने आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा और कहा कि पंजाब में कानून-व्यवस्था पूरी तरह खत्म हो चुकी है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘पंजाब में कानून व्यवस्था खत्म हो चुकी है. शिवसेना नेता सुधीर सूरी को अमृतसर में गोली मारी गई.’

अख़लाक़ की मृत्यु पर दादरी जाने वाले केजरीवाल ने सुधीर सूरी जी की हत्या पर चुप्पी साध ली है?पुलिस के सामने हत्या करदी गई लेकिन @ArvindKejriwal की पुलिस कुछ नही कर पाई।चुनाव में ख़ालिस्तनियों के घर सोने वाले केजरीवाल अगर क़ानून व्यवस्था देने में नाकाम हैं तो इस्तीफ़ा दे दे

— Tajinder Pal Singh Bagga (@TajinderBagga) November 4, 2022

वहीं घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिस पहुंच गई है और मामले की जांच चल रही है । पुलिस के अनुसार इस हत्याकांड की जांच चल रही है, और अधिक जानकारी मिलने के पश्चात ही हत्या के कारणों और षड्यंत्र पर कोई टिप्पणी की जा सकेगी।

Also Read:  भागलपुर में नीलम यादव पर शकील का हमला: काटे हाथ, स्तन और कान, नीलम यादव की मृत्यु

(यह स्टोरी हिंदू पोस्ट का है और यहाँ साभार पुनर्प्रकाशित किया जा रहा है। )

यह भी पढ़ें

6-दसबर-1992,-वह-दन-जस-दन-स-बदल-गय-थ-हनद-सहतय-पर-तरह,-बहन-लग-थ-वकत-वमरश-क-कवतए

6 दिसंबर 1992, वह दिन जिस दिन से बदल गया था...

0
सोनाली मिश्रा 6 दिसंबर 1992, एक ऐसा दिन, जिसने भारत की राजनीति की दिशा बदल कर रख दी थी। एक ऐसा दिन, जिसे लेकर राजनीति...
भगलपर-म-नलम-यदव-पर-शकल-क-हमल:-कट-हथ,-सतन-और-कन,-नलम-यदव-क-मतय

भागलपुर में नीलम यादव पर शकील का हमला: काटे हाथ, स्तन...

0
सोनाली मिश्रा बिहार में एक ऐसी घटना सामने आई है, जो सभी का दिल दहला देने केलिए पर्याप्त है। पहले लोगों को लगता था कि...

अभिमत

6-दसबर-1992,-वह-दन-जस-दन-स-बदल-गय-थ-हनद-सहतय-पर-तरह,-बहन-लग-थ-वकत-वमरश-क-कवतए

6 दिसंबर 1992, वह दिन जिस दिन से बदल गया था...

0
सोनाली मिश्रा 6 दिसंबर 1992, एक ऐसा दिन, जिसने भारत की राजनीति की दिशा बदल कर रख दी थी। एक ऐसा दिन, जिसे लेकर राजनीति...
भगलपर-म-नलम-यदव-पर-शकल-क-हमल:-कट-हथ,-सतन-और-कन,-नलम-यदव-क-मतय

भागलपुर में नीलम यादव पर शकील का हमला: काटे हाथ, स्तन...

0
सोनाली मिश्रा बिहार में एक ऐसी घटना सामने आई है, जो सभी का दिल दहला देने केलिए पर्याप्त है। पहले लोगों को लगता था कि...

लोग पढ़ रहे हैं

The greatness of our MOTHERLAND

0
Swami Vivekananda If there is any land on this earth that can lay claim to be the blessed Punyabhumi (holy land), to be the land...
why-does-a-film-like-kantara-become-a-hit-and-why-can’t-bollywood-make-such-films?

Why does a film like Kantara become a hit and why...

0
Kantara is a Kannada film. However, its dubbed Hindi version has also been received well by the audience in North and East India. What...

Feel like reacting? Express your views here!

यह भी पढ़ें

आपकी राय

अन्य समाचार व अभिमत

हमारा न्यूजलेटर सब्सक्राइब करें और अद्यतन समाचारों तथा विश्लेषण से अवगत रहें!

Town Post

FREE
VIEW