बागबेड़ा बड़ौदा घाट में 15-वर्षीय किशोर खरकई नदी में डूबा

जिउतिया पर्व पर बड़ी त्रासदी, जेमको आजादनगर का किशोर जिउतिया पर माँ के साथ नदी में नहाने आया था

जमशेदपुर: जमशेदपुर के बागबेड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत खरकई नदी के बड़ौदा घाट में 15 वर्षीय एक युवक की डूबने से मौत हो गई है। युवक जेमको आजाद बस्ती का रहने वाला था। वह अपने परिवार के साथ जिउतिया पर्व पर खरकई नदी में नहाने के लिए आया था।

गौरतलब है कि पुत्र की दीर्घायु के लिए महिलाएं जिउतिया पर्व करती हैं और इस दौरान वे नदी में नहा कर पूजा अर्चना करती हैं।

पिछले 2 साल से कोरोना महामारी की वजह से पाबंदी होने पर लोग खुलकर पर्व नहीं मना रहे थे।

Also Read:  जमशेदपुर में भारतीय स्वच्छता लीग की तैयारी अंतिम दौर में

इस साल छूट मिलने के कारण भारी संख्या में महिलाएं अपने परिवार के साथ नदी घाट पहुंची थीं।

आज स्नान कर पूजा अर्चना कर रही थीं।

इस दौरान, जेमको निवासी 15 वर्षीय ऋषि कुमार भी अपनी माँ के साथ बड़ौदा घाट आया था ।

Women at Kharkai river
खरकई नदी पर जिउतिया पर्व मनाने आयीं महिलाएँ। त्रासद दुर्घटना में एक किशोर की डूबने से मौत हो गयी।

लागातार बारिश होने के कारण नदी का जल स्तर बढ़ा हुआ है।

ऋषि नदी में नहाने के उतरा और थोड़ी देर में ही वो पानी में समा गया

इसे देख आस पास की महिलाएं शोर मचाने लगीं।

तत्काल कई लोगों ने पानी में उतर कर उसे खोजने का प्रयास किया।

ऋषि कुमार मैट्रिक का छात्र था। वह अपने माँ-बाप का इकलौता बेटा था।

Also Read:  बागबेड़ा बड़ौदा घाट पर खरकई नदी में डूबे किशोर का शव बरामद

इधर घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस और क्षेत्र के पूर्व जिला परिषद किशोर यादव बड़ौदा घाट पहुंचे और तैराक बुलाकर ऋषि को ढूंढने का प्रयास करने लगे।

लेकिन ऋषि का शव काफी प्रयास के बाद भी नहीं मिला

क्षेत्र के पूर्व जिला पार्षद किशोर यादव ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि बागबेड़ा बड़ौदा घाट में आये दिन डूबने की घटना घटती रहती है। इसे लेकर जिला प्रशासन को गंभीर होने की जरूरत है।

उन्होंने बताया कि 2 साल के बाद इस साल जिउतिया पर्व में काफी संख्या में महिलाएं नहाने के लिए आई थीं।

इसी दौरान यह घटना घटी है।

Also Read:  10 नंबर बस्ती में देशी कट्टे के साथ 8 गिरफ्तार, हुक्का और शराब भी बरामद

बड़ौदा घाट डेंजर जोन है।

प्रशासन को नदी किनारे बेरिकेडिंग करनी चाहिए, जिससे घटना की पुनरावृत्ति ना हो सके।

Feel like reacting? Express your views here!

यह भी पढ़ें

आपकी राय

अन्य समाचार व अभिमत

हमारा न्यूजलेटर सब्सक्राइब करें और अद्यतन समाचारों तथा विश्लेषण से अवगत रहें!

Town Post

FREE
VIEW