जमशेदपुर में किन्नरों के लिए विशेष शिविर आयोजित, आधार कार्ड, वोटर कार्ड दिये गये

उपायुक्त विजया जाधव और किन्नर समुदाय के प्रतिनिधियों ने शिशुओं का अन्नप्राशन किया, डीसी ने किन्नरों को अलग शौचालय, सामुदायिक हॉल, सरकारी योजनाओं का लाभ देने का वादा किया

जमशेदपुर : जमशेदपुर में आज का दिन किन्नरों, यानी थर्ड जेंडर कम्युनिटी, के लोगों के लिए खास रहा। वे खुश थे और उनकी खुशी धतकीडीह समुदाय में मौजूद सारे लोगों को स्पर्श कर रही थी। यहां तक कि डीसी विजया जाधव भी अपनी खुशी छुपा नहीं पा रही थीं और थर्ड जेंडर के सदस्यों के साथ आधिकारिक कार्यक्रम और पारंपरिक अन्नप्राशन की रस्म में मुस्कुराते हुए भाग लेती दिखीं।

Persons of third gender perform annaprashan of infants
किन्नरों द्वारा अन्नप्राशन।

अवसर था सोमवार को जमशेदपुर के धतकीडीह सामुदायिक केंद्र में जिला प्रशासन द्वारा किन्नर समुदाय के सदस्यों के लिए विशेष रूप से आयोजित विशेष मेगा कैंप का। डीसी ने थर्ड जेंडर समुदाय के लोगों के लिए 14 विभिन्न प्रकार की कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा की।

Also Read:  स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने मानगो चौक सौंदर्यीकरण योजना का उद्घाटन किया

इस शिविर का उद्घाटन स्वयं जिले की उपायुक्त विजय जाधव ने किया। कार्यक्रम में पूरे पूर्वी सिंहभूम जिले के किन्नर समुदाय के सदस्य मौजूद थे।

उपायुक्त ने घोषणा की थी कि तीसरे लिंग के सभी सदस्यों को पहचान पत्र, आधार कार्ड, राशन कार्ड, स्वास्थ्य जांच कार्ड और साथ ही मतदाता कार्ड जारी किए जाएंगे और ये कार्ड उन्हें प्रदान भी किये गये।

ये सभी कार्ड प्रतिभागियों को वितरित किये गये।

Persons of third gender (kinnars) dancing before entering the camp.
किन्नर कैम्प में नृत्य के साथ प्रवेश करते हुए।

उपायुक्त ने उन्हें विभिन्न सरकारी सुविधाओं और परियोजनाओं से भी अवगत कराया और बताया कि वे आसानी से इनका लाभ उठा सकते हैं। उन्होंने उन्हें आश्वासन दिया कि प्रशासन शहर के विभिन्न क्षेत्रों में उनके लिए अलग शौचालय का निर्माण करेगा।

उन्होंने कहा कि थर्ड जेंडर समुदाय के लोग न तो पुरुषों के शौचालय में जा सकते हैं और न ही महिलाओं के शौचालय में जा सकते हैं और इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि उनके लिए अलग शौचालय का निर्माण किया जाए और वे यह सुनिश्चित करेंगी कि यह काम जल्द से जल्द हो जाए।

Also Read:  बागबेड़ा में चोरी करने घर में घुसा व्यक्ति पत्थरबाजी पर उतरा, गिरफ्तार

कार्यक्रम के दौरान कई शिशुओं के लिए अन्नप्राशन, या पहला भोजन अनुष्ठान, भी आयोजित किया गया था। डीसी ने कहा कि चूंकि समाज में किन्नरों का आशीर्वाद शिशुओं के लिए शुभ माना जाता है, इसलिए उन्होंने अन्नप्राशन में भी भाग लिया।

DC Vijaya Jadhav can't hide her joy. She is seen with members of 3rd gender community at Dhatkidih
डीसी विजया जाधव कैम्प में किन्नरों के साथ।

उपायुक्त और तीसरे लिंग के व्यक्तियों ने मिलकर इस संस्कार को पूरा किया।

जमशेदपुर में थर्ड जेंडर समुदाय के नेता अमरजीत ने कहा कि वर्षों से इस तरह के शिविर की मांग की जा रही थी और इस मांग को सोमवार को डीसी विजया जाधव ने पूरा कर दिया। उन्होंने इसके लिए पूरे थर्ड जेंडर समुदाय की ओर से उनका आभारी जताया।

Also Read:  केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने मानगो गांधी मैदान में बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया

उल्लेखनीय है कि हिंदू परंपराएं किन्नरों को समाज में विशेष सम्मान देती हैं और महत्वपूर्ण अवसरों पर उनकी उपस्थिति को बहुत शुभ माना जाता है। ऐसे कई अनुष्ठान हैं जो उनके आशीर्वाद के बिना पूरे नहीं हो सकते हैं, खासकर शिशु के जन्म के बाद।

जमशेदपुर की गिनती देश के सबसे थर्ड जेंडर फ्रेंडली टाउनशिप में होती है।

शहर की कई फैक्ट्रियां सालों से बिना किसी भेदभाव के थर्ड जेंडर को रोजगार देती रही हैं।

टाटा स्टील ने एक विशेष पहल के रूप में तीसरे लिंग समुदाय के व्यक्तियों को लिया है और उनमें से कई अब जमशेदपुर में कंपनी के विभिन्न विभागों में कार्यरत हैं और कई को अन्य लोकेशन पर भी भेजा गया है।

जमशेदपुर में किन्नरों के लिए विशेष मेगा कैम्प आयोजित।

 

 

 

 

Feel like reacting? Express your views here!

यह भी पढ़ें

आपकी राय

अन्य समाचार व अभिमत

हमारा न्यूजलेटर सब्सक्राइब करें और अद्यतन समाचारों तथा विश्लेषण से अवगत रहें!

Town Post

FREE
VIEW