निजीकरण की तैयारी के खिलाफ डाककर्मी हड़ताल पर

जमशेदपुर: बैंक, रेल, बीएसएनएल, एअरपोर्ट के बाद अब केंद्र सरकार डाक विभाग के निजीकरण की तैयारी में है. इसको देखते हुए मंगलवार को देशभर में करीब पांच लाख पोस्टल कर्मी हड़ताल पर हैं.

इधर जमशेदपुर मुख्य डाकघर के समक्ष ऑल इंडिया पोस्टल एम्पलाइज इंडियन पोस्टमैन के बैनर तले पोस्टल कर्मी हड़ताल पर रहे इस संबंध में जानकारी देते हुए यूनियन के प्रमंडलीय सचिव चंडी चरण साधु ने बताया कि इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक लिमिटेड के माध्यम से केंद्र सरकार भारतीय डाक को निजी हाथों में सौंपने की तैयारी कर रही है.

इससे देशभर के 5:50 लाख कर्मियों पर सीधा असर पड़ेगा. पोस्ट ऑफिस पर से लोगों का भरोसा उठ जाएगा. केंद्र सरकार इसे साजिश के तहत तबाह करना चाह रही है.

Also Read:  उपायुक्त विजया जाधव व आला अधिकारियों ने महात्मा गांधी व लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि दी

यहां आज भी गरीब लोगों के पैसे सुरक्षित हैं. जैसे ही इसका निजीकरण होगा यहां के पैसों का बंदरबांट शुरू हो जाएगा.

इसके अलावा केंद्र सरकार की अन्य नीतियों का भी हड़ताली कर्मियों ने विरोध किया. आज के हड़ताल में डाक सेवा पूरी तरह ठप रही.

कर्मचारियों ने बताया कि यदि केंद्र सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है और अड़ियल रवैया बनाए रखती है तो आने वाले दिनों में डाक सेवा पूरी तरह से ठप कर दी जाएगी.

VideoCapture 20220810 120834

Feel like reacting? Express your views here!

यह भी पढ़ें

आपकी राय

अन्य समाचार व अभिमत

हमारा न्यूजलेटर सब्सक्राइब करें और अद्यतन समाचारों तथा विश्लेषण से अवगत रहें!

Town Post

FREE
VIEW