ट्रेन की चपेट में आने से बारीगोड़ा निवासी की मौत

जमशेदपुर: जमशेदपुर के बारीगोड़ा निवासी दिव्यांग शिव शंकर साव की रेलवे फाटक पार करने के दौरान ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। घटना गुरुवार सुबह करीब 10 बजे की है। वैसे घायल अवस्था मे उन्हें एमजीएम अस्पताल लाया गया था, जहाँ इलाज के दौरान ही उनकी मौत हो गई।

घटना के सम्बन्ध में मृतक के पिता दिनेश साव ने कहा कि उनके बेटे की पत्नी अनीता देवी नुवोको कंपनी में काम करती है। उनका पुत्र शिवशंकर 3 वर्ष पूर्व पानी लाने के दौरान ट्रेन की चपेट में आ गया था, जिससे उसका पैर कट गया था। तब से वह छोटे-मोटे ठेकों में सुपरवाइजर का कार्य कर परिवार का भरण पोषण करता था।

Also Read:  केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने मानगो गांधी मैदान में बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया

दिनेश साव के अनुसार घरेलू विवाद के कारण पत्नी अनीता देवी ने जमशेदपुर के गोविंदपुर की एक महिला संस्था की मदद से पति पर मारपीट करने की शिकायत की थी और गोविंदपुर थाना में भी पति के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

इस मसले को हल करने के लिए 2 दिन पूर्व गोविंदपुर थाना में दोनों पक्ष के बीच समझौता का प्रयास किया गया था लेकिन पत्नी वापस नहीं आयी, जिससे वह तनाव में रहने लगा।

दिनेश साव के अनुसार गुरुवार सुबह करीब 10 बजे उनका पुत्र बारीगोड़ा बाजार सब्जी लाने गया था। वापस आने के दौरान फाटक पर किसी अज्ञात मोटरसाइकिल ने उसे धक्का मार दिया। पैर से लाचार होने के कारण वह वहां गिर पड़ा और इसी बीच वहां से गुजर रही ट्रेन के चपेट में वह आ गया।

Also Read:  उपायुक्त के नेतृत्व में मानगो में सड़क किनारे से अतिक्रमण हटाया गया

गंभीर रूप से घायल अवस्था में परिजन उसे एमजीएम अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पिता दिनेश शाह कहा कि शिव शंकर उनका एकलौता पुत्र था, और अब उसकी मृत्यु से वे असहाय हो गए हैं।

 

 

 

 

Feel like reacting? Express your views here!

यह भी पढ़ें

आपकी राय

अन्य समाचार व अभिमत

हमारा न्यूजलेटर सब्सक्राइब करें और अद्यतन समाचारों तथा विश्लेषण से अवगत रहें!

Town Post

FREE
VIEW