Monday, June 27, 2022

मजदूरों की देशव्यापी हड़ताल 28 व 29 को, सफल बनाने को लेकर जमशेदपुर में झोंकी ताकत

आमसभा में इंटक, एटक, सीटू, ऐक्टू, एआईयूटीयूसी आदि केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के साथ – साथ राज्य अराजपत्रित कर्मचारी, बैंक, बीमा, डाक, सेल्स प्रमोशन, डीवीसी और रेलवे कर्मचारियों के फेडरेशनों एवं झारखंड वर्कर्स यूनियन के कार्यकर्ताओं ने भी भाग लिया.

जमशेदपुर : केंद्रीय ट्रेड यूनियनों (सीटीयू), क्षेत्रीय कर्मचारी संघों एवं संगठनों की ओर से 28 व 29 मार्च को की जा रही देशव्यापी हड़ताल को सफल बनाने के लिए इन संगठनों ने मजदूरों के शहर की पहचान रखनेवाले जमशेदपुर में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है.

यह हड़ताल मोदी सरकार द्वारा देश की सम्पदा का कथित मेगा सेल लगाए जाने के खिलाफ और मजदूर विरोधी चार लेबर कोड रद्द करने, न्यूनतम मजदूरी 26 हजार करने, पुरानी पेंशन योजना बहाल करने, निजीकरण पर रोक लगाने सहित मजदूरों की कई लंबित मांगों को लेकर की जा रही है.

Also Read:  जमशेदपुर में गोलमुरी से एक अप्रैल को निकलेगी हिंदू नववर्ष शोभा यात्रा, तैयारी में जुटे सनातनी संगठन

जमशेदपुर में हड़ताल को सफल बनाने के लिए रविवार को साकची स्थित नेताजी सुभाष मैदान (आमबगान मैदान) में मजदूर संगठनों की ओर से आम सभा का आयोजन किया गया जिसमें लोगों से इस दो दिवसीय हड़ताल को सफल बनाने का आह्वान किया गया.

आमसभा में इंटक, एटक, सीटू, ऐक्टू, एआईयूटीयूसी आदि केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के साथ – साथ राज्य अराजपत्रित कर्मचारी, बैंक, बीमा, डाक, सेल्स प्रमोशन, डीवीसी और रेलवे कर्मचारियों के फेडरेशनों एवं झारखंड वर्कर्स यूनियन के कार्यकर्ताओं ने भी भाग लिया.

आमसभा की अध्यक्षता मजदूर नेता राकेश्वर पांडे, केके त्रिपाठी एवं शशि कुमार ने की. सभा में हड़ताल संबंधित एक घोषणा पत्र विश्वजीत देब की ओर से प्रस्तुत किया गया. इस घोषणापत्र में बताया गया कि श्रम कानूनों और आर्थिक नीतियों में कॉरपोरेट पक्षीय बदलाव , आजीविका की दयनीय स्थिति, महंगाई, बेरोजगारी, भविष्य निधि पर ब्याज दरों में कमी के साथ-साथ विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं में भारी कटौती से मजदूर एवं किसान आज आक्रोशित हैं.

Also Read:  मानगो पुल से गुजरना हो तो अतिरिक्त समय लेकर चलें. कभी भी फंस सकते जाम में, जानिए क्या है कारण

सभा का संचालन अंबुज ठाकुर तथा धन्यवाद ज्ञापन विनोद राय द्वारा किया गया. सभा को संबोधित करते हुए महेंद्र मिश्रा, संजीव श्रीवास्तव, राणा सिंह, परविंदर सिंह, ओमप्रकाश सिंह, जेपी सिंह, सुब्रत विश्वास, एनएन पॉल, विक्रम कुमार, विष्णु देव गिरी, आरएन ठाकुर, अरुण पाल आदि वक्ताओं द्वारा हड़ताल को ऐतिहासिक रूप से सफल बनाने की अपील की गई तथा सभी राजनीतिक दलों से भी मजदूरों और किसानों के संयुक्त संघर्ष के साथ खड़ा होने और जनता बचाओ-देश बचाओ के नारे का समर्थन करने की अपील की गई है. इस मौके पर सत्येंद्र सिंह, अजय सिंह, केके तिवारी, नागराजू, केडी प्रताप, रामजी सिंह, दीपक कुमार आदि के नेतृत्व में विभिन्न ट्रेड यूनियनों के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद थे.

trade union

Feel like reacting? Express your views here!

यह भी पढ़ें

आपकी राय

अन्य समाचार व अभिमत

हमारा न्यूजलेटर सब्सक्राइब करें और अद्यतन समाचारों तथा विश्लेषण से अवगत रहें!

Town Post

FREE
VIEW