झारखंड में आभूषण कारोबारियों को भय- दहशत से उबरने को शासन पर डालना होगा निर्णायक दबाव : धर्मेंद्र कुमार

जमशेदपुर स्वर्णकार समाज के संस्थापक अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने कहा है कि अब इस महासंकट से उबरने का एकमात्र उपाय शासन पर निर्णायक दबाव बनाना है ताकि अपराधियों पर पुलिस कड़ी व त्वरित कार्रवाई कर सके


जमशेदपुर : साकची बाजार में आभूषण कारोबारी के कर्मचारियों से शुक्रवार की शाम करीब 10 लाख रुपये के सोने की हुई लूट पर तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए जमशेदपुर स्वर्णकार समाज के संस्थापक अध्यक्ष सह जमशेदपुर विश्वकर्मा कारीगर संघ के अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने कहा है कि हाल के दिनों में आभूषण कारोबारियों को अपराधी लगातार निशाना बना रहे हैं.

अभी बिष्टुपुर के छगनलाल दयालजी एंड संस के कर्मचारियों से 32 लाख की लूट की घटना से पैदा हुए भय-दहशत से लोग उबरे ही नहीं कि साकची में लूट की घटना को अंजाम देकर अपराधियों ने मुसीबत को और बढ़ा दिया है.

Also Read:  जमशेदपुर अक्षेस ने दुर्गा पूजा पंडालों के लिए प्रतियोगिता और पुरस्कार घोषित किये

धर्मेंद्र ने कहा कि अब इस महासंकट से उबरने का एकमात्र उपाय शासन पर निर्णायक दबाव बनाना है ताकि अपराधियों पर पुलिस कड़ी व त्वरित कार्रवाई कर सके और आभूषण कारोबारियों को पुख्ता सुरक्षा मुहैया कराई जा सके.

उन्होंने कहा कि अब बिना देर किए रांची में आभूषण कारोबारियों को अपनी पूरी एकजुटता के साथ ताकत दिखानी होगी. राजधानी में धरना-प्रदर्शन कर सरकार से बात करनी होगी. तभी बात बनेगी, आवश्यकता पड़े तो रांची में बेमियादी धरना-प्रदर्शन के कार्यक्रम पर विचार किया जाना चाहिए और इसमें शामिल होने के लिए पूरे झारखंड के आभूषण कारोबारियों से आह्वान होना चाहिए.

उन्होंने आभूषण कारोबारियों से समक्ष कायम भय व दहशत के खिलाफ किसी भी तरह से संघर्ष में कारीगर संघ के हजारों सदस्य कंधा से कंधा मिलाकर चलेंगे.

Also Read:  बागबेड़ा बड़ौदा घाट में 15-वर्षीय किशोर खरकई नदी में डूबा

Feel like reacting? Express your views here!

यह भी पढ़ें

आपकी राय

अन्य समाचार व अभिमत

हमारा न्यूजलेटर सब्सक्राइब करें और अद्यतन समाचारों तथा विश्लेषण से अवगत रहें!

Town Post

FREE
VIEW